विकल्प बाजार

बिटकॉइन ट्रेडर

बिटकॉइन ट्रेडर
शख्स ने बेहद दुखी होते हुए आगे लिखा कि पासवर्ड चोरी हो जाने के बाद वह अब अपनी बिटकॉइन रकम को वापस नहीं हासिल कर पाएगा. बिटकॉइन ट्रेडर शख्स ने अपनी पोस्ट में दावा किया कि उसने शुरुआत में 20,000 डॉलर का निवेश किया था. अगर पासवर्ड चोरी नहीं किया गया होता तो वह अब एक करोड़पति की जिंदगी गुजार रहा होता.

Lost Cryptocurrency: यहां निवेश से करोड़पति भी हो जाते हैं कंगाल, जानिए आखिर कैसे हुई एक शख्स की कंगाल वाली हालत?

By: ABP Live | Updated at : 23 Nov 2021 02:30 PM (IST)

Lost Cryptocurrency: एक बिटकॉइन ट्रेडर बिटकॉइन ट्रेडर (Bitcoin Trader) की तरफ से ऐसा खुलासा किया गया है कि आप भी चौंक जाएंगे. उसका पासवर्ड क्या चोरी हो गया वो तो बिल्कुल कंगाल ही हो गया है. कारोबारी की तरफ से बताया गया है कि उसने लगभग 15 करोड़ मूल्य बिटकॉइन ट्रेडर की क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) गंवा दी हैं. ट्रेडर की तरफ से सोशल मीडिया पर ये कहानी साझा की गई है. अपनी कहानी में उस शख्स ने कहा कि अगर पासवर्ड चोरी नहीं किया गया होता तो वह आज करोड़पति होता.

कहानी का टाइटल

रेडिट बिटकॉइन ट्रेडर यूजर TomokoSlankard ने इस घटना को "आपकी क्रिप्टो को लेकर डरावनी कहानी क्या है?" टाइटल के नाम से साझा की है. उसने लिखा कि पासवर्ड चोरी हो जाने के बाद वह लगभग 2 मिलियन बिटकॉइन ट्रेडर डॉलर मूल्य की क्रिप्टोकरेंसी (Lost Cryptocurrency) गंवा बैठा है. उस शख्स की तरफ से दावा भी किया गया है कि हैकर्स उस सर्वर में घुस गए, जहां पर पासवर्ड सेव था. उसने इन बिटकॉइन को लंबे समय तक सुरक्षित रखने के लिए इनक्रिप्टेड हार्ड ड्राइव में स्टोर किया था. लेकिन हैकर्स ने उसपर ही हमला कर दिया.

पुणे: 300 करोड़ के बिटकॉइन के लिए पुलिस कॉन्स्टेबल ने किया अपहरण, ऐसे हुआ खुलासा

इस मामले में पुलिस ने एक पुलिस कांस्टेबल सहित कुल 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया है

  • News18Hindi
  • Last Updated : February 02, बिटकॉइन ट्रेडर 2022, 17:04 IST

नई दिल्ली. महाराष्ट्र के पिम्परी-चिंचवाड़ (Pimpari Chinchwad) में हुए एक बिटकॉइन ट्रेडर के अपहरण की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है. इस मामले में पुलिस ने एक पुलिस कांस्टेबल सहित कुल 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. इस मामले में सबसे ज्यादा चौकाने बात यह है कि इस पूरी किडनैपिंग का मुख्य मास्टरमाइंड कोई और बिटकॉइन ट्रेडर नहीं, बल्कि पिम्परी-चिंचवाड़ पुलिस का ही एक पुलिसकर्मी था, जिसने 300 करोड़ की बिटकॉइन को पाने के बिटकॉइन ट्रेडर लिए अपने साथियों के साथ मिलकर यह साज़िश रची थी.

BitCoin: रात-रातभर उठकर बिटकॉइन खोज रहे युवा, जानिए किस वजह से बढ़ रहा है क्रेज

crypto-2.jpg -.

बिटकॉइन, इथेरियम, डॉगी, शीबा इनु और सोलाना जैसी क्रिप्टो करेंसी के भाव all-time हाई पर पहुंच गए हैं। इस वजह से इनमें निवेश और ट्रेड करने वाले लोगों की संपत्ति भी तेजी से बढ़ी है। क्रिप्टो में बिटकॉइन ट्रेडर ट्रेडिंग की सुविधा देने वाले एक्सचेंज ने भी इस वजह से 200-500 फीसदी तक की कमाई की है।

भारत में 10 करोड़ से अधिक लोगों के पास क्रिप्टो एसेट हैं, जबकि क्रिप्टो ट्रेडर की संख्या 10 लाख को पार कर गई है। एक क्रिप्टो एक्सचेंज के सीईओ के मुताबिक, "देश में हाई फ्रीक्वेंसी ट्रेडर्स की संख्या अब 80,000 के पार चली गई है। साल 2017-18 के बुल रन में यह संख्या 25,000 के करीब थी। डे ट्रेडर आमतौर पर भरी उतार-चढ़ाव वाले प्रोडक्ट से बचते हैं, लेकिन क्रिप्टो ट्रेडिंग के मामले में स्थितियां अलग हैं। निवेशक अब जोखिम लेकर मुनाफा कमाना चाहते हैं।"

DUBAI में घुसपैठ और मालिक को बंधक बनाकर लूटने वाले चार एशियाई लोगों पर लगा करोड़ों का जुर्माना

UAE : रूममेट् पर जानलेवा हमला करने का आरोप, कामगार को तीन साल जेल की सजा सुनाई गई

दुबई में बिटकॉइन ट्रेडर के साथ बदसलूकी और लूटपाट के आरोप में चार लोगों पर जुर्माना लगाया गया है। चारों आरोपी एशियाई प्रवासी बताए जा रहे बिटकॉइन ट्रेडर हैं। मिली जानकारी के अनुसार पिछले साल मार्च में पीड़ित ने शिकायत दर्ज कराते हुए इस बात की जानकारी दी थी।

RelatedPosts

तिजोरी से Dh1.7 million लेकर भाग गए

आरोपियों ने पीड़ित पर उसके घर में हमला कर दिया और तिजोरी से Dh1.7 million लेकर भाग गए। आरोपी घर में घुस गए और पीड़ित को बंधक बना लिया और तिजोरी की चाबी लेकर लूटपाट करने लगें।

पुलिस जांच में पता चला कि आरोपी अवैध तरीके से घुसपैठ करके देश में घुसे थे और लूटकर भाग गए। बाद मे उन्हें गिरफ्तार कर उन पर Dh1.7 million का जुर्माना लगाया गया है।

बिटकॉइन और दूसरी क्रिप्टोकरेंसी की कीमतों में आ सकती है 20% की गिरावट, क्या है वजह?

बिटकॉइन और दूसरी क्रिप्टोकरेंसी की कीमतों में आ सकती है 20% की गिरावट, क्या है वजह?

क्रिप्टो मार्केट कैपिटलाइजेशन में जल्द ही बड़ी गिरावट देखने को मिल सकती है. यह 1 ट्रिलियन डॉलर से नीचे गिर सकता है. हालांकि इंवेस्टर्स को 1.2 ट्रिलियन डॉलर से ऊपर जाते हुए इसकी रिकवरी की उम्मीद थी, जो आखिरी बार 10 जून को देखी गयी थी. Cointelegraph की एक रिपोर्ट में गिरावट की आशंका जताई जा रही है.

इतना ही नहीं क्रिप्टोकरेंसी मार्केट की भी हालत नाजुक है. 22 अगस्त को, WTI oil की वैल्यू में 3.6% की गिरावट आई. यह 8 जून को अपने $ 122 के शीर्ष से 28% नीचे गिर गया. US Treasuries पर 5 साल की उपज ने अपनी प्रवृत्ति को उलट दिया और बिटकॉइन ट्रेडर वर्तमान में 1 अगस्त के 2.61% से निचले स्तर पर पहुंचने के बाद 3.16% पर कारोबार कर रहा है. इन सभी से संकेत मिलता बिटकॉइन ट्रेडर है कि निवेशकों का केंद्रीय बैंक के इस तरह के ऋण साधनों को रखने के लिए अधिक धन मांगने की प्रथाओं में विश्वास खो रहा है.

रेटिंग: 4.56
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 855
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *